द़ृष्टि पत्र VISION 2018

मछली पालन विभाग, मध्य प्रदेश शासन                

मत्स्योद्योग विभाग प्रदेश में मत्स्य विकास और संरक्षण के लिए उत्तरदायी है, जिस हेतु विभाग, उपलब्ध संसाधनों के माध्यम से सतत् प्रयासरत है ।

प्रदेश में 3.56 लाख हेक्टयर जलक्षेत्र जलाशय, पोखर और तालाब के रूप में उपलब्ध है, जिसमें 2.94 लाख हेक्टयर जलक्षेत्र जलाशय का तथा 0.62 लाख हेक्टयर जलक्षेत्र ग्रामीण तालाब एवं पोखर का सम्मिलित है, इसमें से 3.49 लाख हेक्टयर जलक्षेत्र मछली पालन अन्तर्गत लाया जा चुका है, जिसमें 2.91 लाख हेक्टयर जलाशय का तथा 0.576 लाख हेक्टयर ग्रामीण तालाबों एवं पोखरों का है।

उपरोक्त जलक्षेत्र में 1.72 लाख हेक्टेयर के 12 जलाशय मध्यप्रदेश मत्स्य महासंघ तथा 0.134 लाख हेक्टेयर के 45 जलाशय विभागाधीन एवं 1000 हेक्टेयर औसत जलक्षेत्र तक के 0.91 लाख हेक्टेयर औसत जलक्षेत्र के 2,640 सिंचाई जलाशय पंचायत राज संस्थाओं को मध्यप्रदेश शासन, मछली पालन विभाग, मंत्रालय भोपाल के आदेश क्रमांक 1548/2008/36 दिनांक 08.10.2008 से हस्तांतरित किये गये है ।


महत्वपूर्ण सूचनाएँ

प्रमुख सचिव, मध्य प्रदेश शासन, मछली पालन विभाग तथा मुख्य अभियंता जल संसाधन द्वारा तवा लेफ्ट बैंक केनाल पर स्थित ग्राम तीखर एवं ग्राम जमानी के समीपवर्ती बोरोपिट में मत्स्यबीज संवर्धन पोखरों के निर्माण की साइट का अवलोकन किया गया ।

 

मछलियों के बारे में जानकारी

संदेश

  • दिनांक 4,5 एवं 6 फरवरी, 2012 को लाल परेड ग्राउण्ड, भोपाल में फिश फेस्टिवल का आयोजन किया जा रहा है । फिश फेस्टिवल सह मछुआ पंचायत का आयोजन तीन दिवसीय होगा । इस आयोजन में मत्स्योत्पादन, मत्स्यबीज उत्पादन, शोभायमान मछलियों के उत्पादन की नवीनतम तकनीकी के प्रचार प्रसार हेतु स्टाॅल लगाए जाएंगे एवं फ्लेक्स द्वारा भी प्रदर्शित किया जाएगा । राष्ट्रीय स्तर के वैज्ञानिकों के तकनीकी सत्र का आयोजन किया जावेगा जिससे मत्स्य पालक, मछुआरें लाभांवित होंगे । फिश फेस्टिवल के आयोजन में प्रतिस्पर्धाओं का समावेश किया जावेगा । जिनमें मछली के विभिन्न व्यंजन तैयार करने की विधि, फिश एंग्लिंग, नौका दौड़, जैव विविधता पर निबंध लेखन प्रतियोगिता एवं कला पथक ,द्वारा नाटक तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे ।
  • मध्यप्रदेश शासन, मछली पालन विभाग द्वारा प्रदेश के ग्रामीण तथा विकास क्षेत्रों में निवासरत मछुआ परिवारों को सुरक्षित आवास शुद्व पेय जल तथा सामुदायिक भवन जैसी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए वित्तीय वर्ष 2011-12 में मछुआ आवास योजना भारत शासन के सहयोग से समपूर्ण प्रदेश में लागू किया गया है । प्रदेश स्तर पर इस योजना का शुभारम्भ दिनांक 5.11.2011 को माननीय श्री ईश्वरदास रोहाणी विधानसभा अध्यक्ष मध्यप्रदेश के मुख्य आतिथ्य तथा माननीय श्री अजय विश्नोई, मंत्री, मध्यप्रदेश शासन, मछली पालन विभाग की अध्यक्षता में तथा माननीय श्री राकेश सिंह सांसद जबलपुर के विशिष्ट आतिथ्यि में पशु चिकित्सा विज्ञान महाविद्यालय, जबलपुर में आयोजित किया गया जिसमें जबलपुर संभाग के जबलपुर जिले के 125 सदस्य तथा मण्डला जिले के 43 सदस्यों को चैक वितरण का किया गया ।